आलेख

साक्षात्कार साहित्यकार का

साक्षात्कार : रीमा महेंद्र ठाकुर

साक्षात्कारकर्ता: नवनीत चौधरी विदेह

1- अपना संक्षिप्त परिचय दीजिए ( जन्म,शिक्षा,व्यवसाय,रुचियाँ आदि )
उत्तर= रीमा महेंद्र ठाकुर वरिष्ठ लेखिका “
जन्म 19 / 10 / 1980,
शिक्षा, स्नातक,
व्यवसाय” गृहणी “
रुचि, – लेखन, नयी चीजो पर शोध”

2- आपने लिखना किस उम्र से आरंभ किया ? और किसकी प्रेरणा से किया ?
उत्तर= बचपन से”/ 5 वर्ष की उम्र से, प्रेरणा, मेरा लेखन परमात्मा का उपहार”

3- अपने साहित्यिक गुरु का नाम बताइये ?
उत्तर= आ, भरत सिंह रावत जी “

4- किन-किन साहित्यिक विधाओं में लिखते हैं ?
उत्तर= गद्य, पद्य दोनों “

5- पहली रचना कब और किस पत्रिका/अखबार में प्रकाशित हुई ?
उत्तर= बचपन में, सहारा, लखनऊ “किलोल”पत्रिका”19 92 में”
पुन: नवल भारत अखबार ” सुखन साझ पत्रिका ” अभी तक अनवरत जारी*

6- अपने साहित्य से आप समाज को क्या कहना चाहते हैं ?
उत्तर= समाज के लिए दो शब्द “
एक साहित्यकार का दृष्टिकोण बस इतना होता है, की वो अपने शब्दों से हरदिन एक नया बदलाव लाना चाहता है, जिसकी समाज मे बहुत अवश्यकता है हमारी दृष्टि में सहित्य कार से अच्छा निर्णायक कोई नहीं होता, एक सहित्यकार ही समाज के हर पहलू को अपने शब्दों में ढालकर समाज को आईना दिखा सकता है, और मार्गदर्शन भी कर सकता है!

7- अपनी प्रकाशित पुस्तकों के नाम बताएँ ?
उत्तर= तीन पुस्तक ” काव्याजंलि,” शब्दनाद, ” वैदेही के राघव “”” 25, साझा संग्रह “

8- क्या किसी पुस्तक का संपादन किया है ? नाम बताएँ
उत्तर= नही, सहयोगी संपादक

9- भविष्य की साहित्यिक योजनाओं के विषय में अवगत कराएँ
उत्तर= नवांकुरो को मौका देना ” मेरा लक्ष्य है ताकि आने वाले समय में साहित्य का सूर्य अस्त न हो, युवा पीढ़ी में जागरूकता फैलाना, उन्हें सही मार्गदर्शन करना ” जिन सहित्यकारो को लोग भूल गये हैं उन्हें पुनः स्थापित करना ” तीन पीढियों को बांधकर रखना, जैसे” नवांकुरो को, मार्गदर्शन,
प्रोढ को मध्यस्थ बनाना, और अनुभवी को आगे लाकर उनसे सीखना”

10- अपनी पसंदीदा पुस्तक का नाम बताएँ ?
उत्तर= वो सभी पुस्तके जो मुझे कुछ सीख देकर जाती है” कामायनी “

11- आप किस साहित्यकार में अपना अक्स देखते हैं ? अथवा आप किस साहित्यकार से प्रभावित हैं ?
उत्तर= लगभग सभी सहित्यकारो का अंश है मुझमें, या अशीर्वाद “
जयशंकर प्रसाद, की रचनाएँ प्रभावित करती है

12- आपको मिलने वाले सम्मानों के विषय में अवगत कराएँ ..

उत्तर- पत्रपत्रिकाओं मप्रतिलिपि लेखक सम्मान, वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड, सिम्मी कुमारी डारेक्टर ग्लोबल, ” इंडियन वेस्टीज एवार्ड, निशा शैलेंद्र माथुर, ” वेस्टी एजुकेशन एंड चेरीटेबल टृस्ट सम्मान ” वर्ल्ड बुक रिकॉर्ड कुवैत “भारत माता अभिनंदन सम्मान ” सहित्य विशेष सम्मान “शब्द शिल्पी सम्मान” काशी कविता सम्मान, समायिक परिवेश पत्रिका सम्मान, विध्यवासिनी प्रश्नोत्तरी सम्मान, सारा सच हमारी वाणी लेखक सम्मान, श्रैया जी सम्मान बंगलौर “भारत के श्रेष्ठ रचनाकार, श्रेष्ठ संचालन सम्मान,प्रतिलेख सम्मान, राष्ट्रीय गीता गैलरी सम्मान इंकलाब उत्कृष्ट कथा सम्मान, भारत को जाने, वर्ल्ड रिकॉर्ड असम चौपाई ,अंतर्राष्ट्रीय नारी गौरव सम्मान” सरस्वती सम्मान ” हिन्दी रक्षक मंच लेखक, बहुत सारे मंचो से सम्मानित”
3000 डिजिटल प्रमाण पत्र से सम्मानित!, राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित, !!

13- नये कलमकारों/साहित्यकारों को क्या संदेश देना चाहेंगे ?
उत्तर= उठो जागो और छू लो आसमान, जो करो अपनी मातृभाषा के लिए “

14-क्या कभी आकाशवाणी एवं दूरदर्शन पर प्रसारित होने का अवसर मिला है ?
उत्तर= नही “

15 – क्या कविसम्मेलनों का हिस्सा बने हैं ?
उत्तर= जी ” ऑनलाइन

16 – आपकी नजर में साहित्य क्या है ?
उत्तर = मेरा मानना है साहित्य मेरे अंदर धडकता है, साहित्य मुझमें जीवंत है!

17 – फेसबुक के साहित्य को आप किस दृष्टि से देखते हैं ?
उत्तर= उत्तम, क्योंकि फेसबुक साहित्य से उन लोगों को भी मौका मिला जिन्हें पता नही था की कदम किधर बढाऐ ” हा कुछ त्रुटियां जरूर है, हर क्षेत्र में वो त्रुटियां है, साहित्यकार यादि संतुष्ट है तो सफल है’ मेरी दृष्टि में, जो सहित्य को शीर्ष पर पहुंचाऐ वही कार्यप्रणाली उत्तम है!!

100% LikesVS
0% Dislikes

Shiveshwaar Pandey

शिवेश्वर दत्त पाण्डेय | संस्थापक: दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह | 33 वर्षों से पत्रकारिता में सक्रिय | समसामयिक व साहित्यिक विषयों में विशेज्ञता | प्रदेश एवं देश की विभिन्न सामाजिक, साहित्यिक एवं मीडिया संस्थाओं की ओर से गणेश शंकर विद्यार्थी, पत्रकारिता मार्तण्ड, साहित्य सारंग सम्मान, एवं अन्य 200+ विभिन्न संगठनों द्वारा सम्मानित |

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!