ग्राम टुडे ख़ास

वनराजि परिवारों के लिए राशन लेकर पहुंची राजस्व विभाग की टीम

दि ग्राम टुडे नेटवर्क
पिथौरागढ़। पिथौरागढ़ जिले के धारचूला के किमखोला गांव में छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद होम आइसोलेट किए गए परिवारों के लिए प्रशासन की टीम बुधवार को राशन लेकर पहुंची। सुबह धारचूला से राजस्व दल राशन किट लेकर गांव पहुंचा। जहां पर होम आइसोलेट किए गए छह वनराजि परिवारों को दिया गया। गांव में छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनके परिजनों को आइसोलेट कर दिया गया था। जिससे इन परिवारों के सामने भोजन का संकट खड़ा हो गया था। जिलाधिकारी आनंद स्वरूप ने भी इस मामले का संज्ञान लिया है और वे खुद धारचूला आ रहे हैं।
हाल में वनराजि गांव किमखोला में की गई सैंपलिंग में वनराजि परिवार के छह लोग कोरोना संक्रमित मिले थे। ये सभी अपने घरों के मुखिया भी हैं और इन्हीं पर परिवार की जिम्मेदारी भी है। समाज के महिला व पुरुष सदस्य रोज मेहनत-मजदूरी कर परिवार का पेट भरते हैं। गांव निवासी इंदिरा देवी रजवारनी ने बताया कि अभी तक तो आपसी मदद से इन प्रभातिवों परिवारोंप्रशासन भी इनकी दसा से अनजान रहा। कौशल्या रजवारनी का कहना है कि सरकार पिछली बार मुफ्त राशन दे रही थी। मगर इस बार गांव के चार परिवारों को यह राशन भी नहीं मिला है। ग्रामीणों ने जल्द प्रभावितों परिवारों की सुध लेने की मांग की है। खबरें में मीडिया में आने के बाद एसडीएम धारचूला एके शुक्ला ने बताया कि बुधवार को राजस्व टीम वनराजि गांव में भेजी जाएगी। कोटे का राशन ग्रामीणों को क्यों नहीं मिला इसकी जांच भी होगी। प्रशासन की ओर से सभी परिवारों के लिए निश्शुल्क राशन भी भेजा जाएगा। जिसके तहत आ राजस्व की टीमा आज गांव में राशन लेकर पहुंची। डीएम भी आज धारचूला पहुंच रहे हैं और वनराजियों की स्थिति के बारे में चर्चा करेंगे। के भोजन की व्यवस्था हो रही थी परंतु अब अन्य परिवारों के समक्ष भी राशन का संकट खड़ा हो गया है।वनराजि परिवारों के लिए राशन लेकर पहुंची राजस्व विभाग की टीमपिथौरागढ़। पिथौरागढ़ जिले के धारचूला के किमखोला गांव में छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद होम आइसोलेट किए गए परिवारों के लिए प्रशासन की टीम बुधवार को राशन लेकर पहुंची। सुबह धारचूला से राजस्व दल राशन किट लेकर गांव पहुंचा। जहां पर होम आइसोलेट किए गए छह वनराजि परिवारों को दिया गया। गांव में छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उनके परिजनों को आइसोलेट कर दिया गया था। जिससे इन परिवारों के सामने भोजन का संकट खड़ा हो गया था। जिलाधिकारी आनंद स्वरूप ने भी इस मामले का संज्ञान लिया है और वे खुद धारचूला आ रहे हैं।हाल में वनराजि गांव किमखोला में की गई सैंपलिंग में वनराजि परिवार के छह लोग कोरोना संक्रमित मिले थे। ये सभी अपने घरों के मुखिया भी हैं और इन्हीं पर परिवार की जिम्मेदारी भी है। समाज के महिला व पुरुष सदस्य रोज मेहनत-मजदूरी कर परिवार का पेट भरते हैं। गांव निवासी इंदिरा देवी रजवारनी ने बताया कि अभी तक तो आपसी मदद से इन प्रभातिवों परिवारोंप्रशासन भी इनकी दसा से अनजान रहा। कौशल्या रजवारनी का कहना है कि सरकार पिछली बार मुफ्त राशन दे रही थी। मगर इस बार गांव के चार परिवारों को यह राशन भी नहीं मिला है। ग्रामीणों ने जल्द प्रभावितों परिवारों की सुध लेने की मांग की है। खबरें में मीडिया में आने के बाद एसडीएम धारचूला एके शुक्ला ने बताया कि बुधवार को राजस्व टीम वनराजि गांव में भेजी जाएगी। कोटे का राशन ग्रामीणों को क्यों नहीं मिला इसकी जांच भी होगी। प्रशासन की ओर से सभी परिवारों के लिए निश्शुल्क राशन भी भेजा जाएगा। जिसके तहत आ राजस्व की टीमा आज गांव में राशन लेकर पहुंची। डीएम भी आज धारचूला पहुंच रहे हैं और वनराजियों की स्थिति के बारे में चर्चा करेंगे। के भोजन की व्यवस्था हो रही थी परंतु अब अन्य परिवारों के समक्ष भी राशन का संकट खड़ा हो गया है।

50% LikesVS
50% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!