साहित्य

पुस्तक ‘प्रकृति के आंगन में’ का आवरण पृष्ठ जारी • पर्यावरणविद् देवेंद्र मेवाड़ी ने लिखी है भूमिका

दि ग्राम टूडे न्यूज।


अतर्रा (बांदा)। शैक्षिक संवाद मंच की ओर से शिक्षक एवं वरिष्ठ साहित्यकार प्रमोद दीक्षित मलय के संपादन में प्रकाश्य बेसिक शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश में कार्यरत शिक्षक-शिक्षिकाओं के पर्यावरण परक लेख एवं कविताओं पर आधारित पुस्तक ‘प्रकृति के आंगन में’ का आवरण पृष्ठ गत दिवस वाट्सएप रचनाकार समूह में जारी किया गया। मनमोहक मुखपृष्ठ देखकर रचनाकारों ने हर्ष व्यक्त करते हुए संपादक को बधाई प्रेषित की है।
जानकारी देते हुए संपादक प्रमोद दीक्षित मलय ने बताया कि शैक्षिक संवाद मंच द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत साहित्यिक अभिरुचि सम्पन्न एक सौ से अधिक शिक्षक-शिक्षिकाओं की पर्यावरण मुद्दे पर आधारित लेख एवं कविताओं का साझा संकलन ‘प्रकृति के आंगन में’ प्रकाशित कर उनकी रचनाधर्मिता को प्रकट होने का अवसर दे रहा है। संकलन की भूमिका प्रसिद्ध विज्ञानकथा लेखक पर्यावरणविद् देवेंद्र मेवाड़ी ने लिखी है और बाबूलाल दीक्षित (सेवानिवृत्त प्राचार्य, श्रीमन्नूलाल संस्कृत महाविद्यालय अतर्रा, बांदा) एवं व्यंग्यकार संतराम पांडेय (संपा- दैनिक जगत चर्चा, मेरठ) ने समीक्षात्मक टिप्पणी लिख कर शुभकामनाएं दी हैं। पुस्तक का प्रकाशन रुद्रादित्य प्रकाशन, प्रयागराज द्वारा किया जा रहा है। कलाकार राज भगत द्वारा चित्रित पुस्तक का आवरण वाट्सएप पर बने रचनाकार समूह में गत दिवस जारी किया गया। दीप्ति खुराना, दीक्षा मिश्रा, आलोक यादव, कौसर जहां, बुसरा सिद्दीकी, पूजा दुबे, राजेंद्र राव, भावना शर्मा, अपर्णा नायक, दीप्ति सक्सेना, आकांक्षा चौधरी, गीता भाटी, ज्योति विश्वकर्मा, रवींद्रनाथ यादव, पूजा सचान, प्रज्ञा त्रिवेदी, डॉ. प्रीति चौधरी, प्रतिमा उमराव, निधि माहेश्वरी, शीतल सैनी, श्रुति त्रिपाठी, सुषमा मलिक, प्रियदर्शिनी तिवारी, शालिनी गुप्ता, शीलचंद्र जैन, शोभना शर्मा, शीला सिंह, राजीव गुर्जर, शशि कौशिक, सुनीता गुप्ता, रणविजय निषाद, अभिलाषा गुप्ता, रीनू पाल, शशि सिंह, रश्मि पांडेय, मनमोहन, प्रवीणा दीक्षित आदि ने पुस्तक की सफलता की शुभकामनाएं दी।

50% LikesVS
50% Dislikes

Shiveshwaar Pandey

शिवेश्वर दत्त पाण्डेय | संस्थापक: दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह | 33 वर्षों से पत्रकारिता में सक्रिय | समसामयिक व साहित्यिक विषयों में विशेज्ञता | प्रदेश एवं देश की विभिन्न सामाजिक, साहित्यिक एवं मीडिया संस्थाओं की ओर से गणेश शंकर विद्यार्थी, पत्रकारिता मार्तण्ड, साहित्य सारंग सम्मान, एवं अन्य 200+ विभिन्न संगठनों द्वारा सम्मानित |

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!