उत्तरप्रदेशखबरों की खबर

छात्र छात्राओं का प्रदर्शन लगभग 30 घंटे बाद हुआ समाप्त।

संवाददाता

लखनऊ । पारा थाना क्षेत्र के डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय में बस चालक की लापरवाही से 24 वर्षीय छात्रा की कुचल कर मौत के बाद छात्र छात्राओं के द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन में बीती रात विहार से पहुंचे माता पिता भी प्रदर्शन में शामिल हुए और अपनी मांगे पूरी ना होने तक शव लेने से इंकार करते रहे। दोपहर होते होते प्रदर्शन में समाजवादी पार्टी छात्र सभा के पदाधिकारी भी पहुंचने लगे। और वीसी व रजिस्टर को बुलाने व परिजनों को 40 लाख की मदद व परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की मांग करते हुए। नारेबाजी करते रहे। छात्र छात्राओं व परिजनों का यह प्रर्दशन लगभग 30 घंटे चलने के बाद देर शाम समाजवादी पार्टी नेता पूर्व विधायक रेहान नईम पहुंचे और परिजनों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। जिसके बाद परिजन व छात्र छात्राएं वीसी से वार्ता करने को तैयार हुए।वही विश्व विद्यालय प्रशासन ने मृतक छात्र के परिजनों को 6 लाख की आर्थिक मदद के साथ ही विश्व विद्यालय के सभी अध्यापकों ने स्वेच्छा से एक दिन का वेतन देनी की बात कही है। आप को बता दें कि पारा क्षेत्र के डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय की दृष्टि बाधित छात्रा रुखसार जहां 24 पुत्री राशिद ग्राम मीर अलीपुर जनपद गोपालगंज बिहार को विश्वविद्यालय में तैनात बस चालक करन ने ठोकर मारते हुए कुचल दिया। और अस्पताल में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया घटना की जानकारी मिलते ही विश्व विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने मोहान रोड जाम कर धरने पर बैठ गए। मृतक के परिवार में माता नेहरूनिशा, बहन कैनाथ, गुलशन आरा, बुसराखातुन व भाई सुहेल अख्तर है , पिता रसीद आलम मजदूरी करते हैं।

50% LikesVS
50% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!