उत्तराखंड

जयंती पर याद किए गये जन गण मन के रचित रविंद्रनाथ टैगोर

सपना चौहान

रुड़की। राष्ट्रगान जन गण मन व बंगाल के राष्ट्रगान आमार सोनार बांग्ला के रचयिता उपन्यासकार,कवि,लेखक,प्रथम नोबेल पुरस्कार विजेता रविंद्रनाथ टैगोर जी की161वी जयंती पर श्रृद्धा सुमन अर्पित किए गये। राष्ट्र सन्मान संघ के तहसील कैम्प कार्यलय पर प्रदेश अध्यक्ष व मानवाधिकार संगठन ब्यूरो नवीन कुमार जैन एडवोकेट के नेतृत्व में अधिवक्ता व भाजपा कार्यकर्ता आदि ने पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धाजंलि दी ।

भाजपा नेता नवींन जैन ने कहा कि आज़ादी दिलाने के लिए राष्ट्र के महान शहीदों ,साहित्यकारों व युवाओं ने अपने अपने देश भक्ति जज़्बे को लेकर भारत माता के चरणों में बलिदान किए। जिन्हें देश कभी भूला नही पायेगा आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के शहीदों व बलिदानी राष्ट्र भक्तों के प्रति राष्ट्र समर्पण भावना को प्राथमिकता स्तर पर रख विदेशियों द्वारा पुरातन की सम्पदा जो भारतवर्ष से चुरा कर ले जाएगी थी उस सम्पदा को वापस स्वदेश लाना देश के शहीदों व बलिदानी राष्ट्र भक्तों को समपर्ण करना सराहनीय कदम है । हमसब को देश के आध्यात्मिक व्यक्तित्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंसूबों को मजबूती प्रदान कर देश के अमर शहीदो को सम्मान दे राष्ट्रदायित्व की पूर्ति करनी चाहिए तभी हमसब भारतवासियों का जीवन सार्थक होगा इसी क्रम में मंडल उपाध्यक्ष पछमी बी.एल.अग्रवाल व पूर्वी मंडल महामंत्री संजय त्यागी ने भी राष्ट्रकवि व राष्ट्रगान रचयिता रविंद्रनाथ टैगोर जी के सम्बंध में विचार व्यक्त किए हमसब को सहीदो व बलिदानी व्यक्तित्व के लिए भारत माता की सेवार्थ पुनीत मानव कल्याण कार्य करने चाहिए जयंती वर्ष पर श्रद्धासुमन अर्पित करने वाले अधिवक्ता सुनींल कुमार गोयल,रविन्द्रपाल वर्मा,नसीम अहमद,गजेंद्र सिंह ,अशोक कुमार, अनुज आत्र्येय,राष्ट्र सम्मान संघ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कृष्णदत धीमान,नीरज जैन,अमित कपूर,सचिन गोंड़वाल, पंकज जैन, नरेश कुमार,गिरीश शर्मा,धुर्व जैन,सोनू गुज्जर, सहजाद अल्वी,श्रवण कुमार आदि मौजूद रहे।

100% LikesVS
0% Dislikes

Shiveshwaar Pandey

शिवेश्वर दत्त पाण्डेय | संस्थापक: दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह | 33 वर्षों से पत्रकारिता में सक्रिय | समसामयिक व साहित्यिक विषयों में विशेज्ञता | प्रदेश एवं देश की विभिन्न सामाजिक, साहित्यिक एवं मीडिया संस्थाओं की ओर से गणेश शंकर विद्यार्थी, पत्रकारिता मार्तण्ड, साहित्य सारंग सम्मान, एवं अन्य 200+ विभिन्न संगठनों द्वारा सम्मानित |

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!